बी.आई.एम.टी. में मनाया गया विश्व हिन्दी दिवस।


बदायूँ इस्टीट्यूट आॅफ मैनेजमैण्ट एण्ड टैक्नोलाॅजी, निकट मण्डी समिति ककराला रोड, बदायूॅं में विश्व हिन्दी दिवस मनाया गया। हिन्दी दिवस के अवसर पर काॅलेज परिसर में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारमभ काॅलेज प्रबन्धक अक्षज रस्तोगी ने माॅं सरस्वती के समक्ष द्वीप प्रज्जवलित कर किया। कार्यक्रम की संचालिका फौजिया सुल्ताना ने ‘‘भारत माॅं के शीष पर सजी स्वर्णिम बिंदी हूॅं, मैं भारत की बेटी आपकी अपनी हिन्दी हूॅं‘‘ शब्दों से कार्यक्रम की शुरूआत की। हिन्दी दिवस के अवसर पर छात्र/छात्राओं को हिन्दी की प्रतियोगिता भी कराई गयी। जिसमें कई छात्र/छात्राओं ने बढ़चढ़ कर प्रतिभाग किया। कार्यक्रम के उपरान्त छात्र/छात्राओं को पुरूस्कार देकर सम्मान दिया गया। प्रबन्धक अक्षज रस्तोगी ने सभी छात्र/छात्राओं एवं अध्यापकगणों से हिन्दी के महत्व पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए हिन्दी को जन-जन की भाषा बनाने पर जोर दिया। उन्होंने बताया कि सभी भाषाओं का सम्मान करते हुए हमें अपनी मातृभाषा हिंदी के गौरव और उसके अस्तित्व का संरक्षण भी एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में करना चाहिए। प्रबन्धक आशीष सिंघल ने विचार व्यक्त करते हुए बताया कि हिन्दी हमारी राष्ट्र भाषा है लेकिन आज की युवा पीढ़ी के दिमाग पर हिन्दी को भूलकर अंग्रेजी हावी होती जा रही है वह अच्छे समाज में पहुॅंचने के बाद अंग्रेजी भाषा को बहुत सम्मानित भाषा समझ कर हिन्दी को भूल जाता है जबकि हिन्दी से हिन्दुस्तान है और हमें यह अधिक प्रभावशाली बनाने पर जोर देना चाहिए। कार्यक्रम के दौरान नियन्त्रक ओमशंकर शर्मा, मैनेजर सुरेन्द्र नाथ श्रीवास्तव व सभी अध्यापकगण मौजूद रहे।